मिर्ज़ा ग़ालिब | Mirza Ghalib — कभी नेकी भी उसके जी में गर आ जाए है मुझसे | kabhi neki bhi uske ji mein gar aa jaaye hai mujhse

कभी नेकी भी उसके जी में गर आ जाए है मुझसे
जफ़ाएँ करके अपनी याद शरमा जाए है मुझसे

kabhi neki bhi uske ji mein gar aa jaaye hai mujhse
jafaayen karke apni yaad sharma jaaye hai mujhse

ख़ुदाया जज़्बा-ए-दिल की मगर तासीर उल्टी है
कि जितना खींचता हूँ और खिंचता जाए है मुझसे

khudaaya jazba-e-dil ki magar taaseer ulti hai
ki jitna kheenchta hoon aur khinchta jaaye hai mujhse

वो बदख़ू और मेरी दास्तान-ए-इश्क़ तूलानी
इबारत मुख़्तसर क़ासिद भी घबरा जाए है मुझसे

wo badkhu aur meri daastaan-e-ishq toolaani
ibaarat mukhtasar qaasid bhi ghabra jaaye hai mujhse

उधर वो बदगुमानी है इधर ये नातवानी है
न पूछा जाए है उससे न बोला जाए है मुझसे

udhar vo badgumaani hai idhar ye naatavaani hai
na poochha jaaye hai usase na bola jaaye hai mujhse

सँभलने दे मुझे ऐ नाउम्मीदी क्या क़यामत है
कि दामान-ए-ख़याल-ए-यार छूटा जाए है मुझसे

sambhalne de mujhe ae naaummeedi kya qayaamat hai
ki daamaan-e-khayal-e-yaar chhoota jaaye hai mujhse

तकल्लुफ़ बरतरफ़ नज़्ज़ारगी में भी सही लेकिन
वो देखा जाए कब ये ज़ुल्म देखा जाए है मुझसे

takalluf bartaraf nazzaargi mein bhi sahi lekin
vo dekha jaaye kab ye zulm dekha jaaye hai mujhse

हुए हैं पाँव ही पहले नबर्द-ए-इश्क़ में ज़ख़्मी
न भागा जाए है मुझसे न ठहरा जाए है मुझसे

huye hain paanv hi pehle nabard-e-ishq mein zakhmi
na bhaaga jaaye hai mujhse na thehra jaaye hai mujhse

क़यामत है कि होवे मुद्दई का हमसफ़र ‘ग़ालिब’
वो काफ़िर जो ख़ुदा को भी न सौंपा जाए है मुझसे

qayaamat hai ki hove muddai ka humsafar ‘Ghalib’
vo kaafir jo khuda ko bhi na saunpa jaaye hai mujhse

Posted: 23-Jan-2021

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s